महासागर कितने हैं? और उनके नाम क्या है | Mahasagar Kitne Hai aur Unke Naam

Mahasagar Kitne Hai, Mahasagar kul kitne hai aur unke naam, Duniya me kul kitne mahasagar hai, Vishva me kitne mahasagar hai, Prithvi par kitne mahasagar hai |

हेल्लो दोस्तों आप का बहुत स्वागत है हमारे वेबसाइट बीइंग हिन्दी पर | Mahasagar Kitne Hai? महासागर कितने है ? आज हम इस लेख कि मदद से जानेंगे |

महासागर हमारे पृथ्वी के जलमंडल का एक प्रमुख भाग है | यह एक विशाल खारे पानी का क्षेत्र होता है | पृथ्वी का लगभग 71 % भाग पानी से भरा हुआ है | इसी पानी के क्षेत्र को महासागर कहा जाता है | पृथ्वी पर लगभग 97 % खारा पानी मौजूद है बस 3 % ही पीने योग्य पानी उपलब्ध है |

आप कि जानकारी के लिए बताना चाहूँगा वैसे तो पृथ्वी पर मौजूद जल को ही सागर या महासागर कहा जाता है | बढते समय के साथ साथ महासागरो का नाम विकसित हुआ | भौगोलिक दृष्टि से महासागर महाद्वीपों को एक दुसरे से अलग करता है |

Mahasagar Kitne Hai
Duniya Me Kitne Mahasagar Hai?

महासागर कितने हैं? और उनके नाम – Mahasagar Kitne Hai aur Unke Naam

भौगोलिक दृष्टि के अनुसार विश्व में कुल 5 महासागर है | जो सभी महाद्वीपों को एक दूसरे से अलग करता है | इनके नाम क्रमशः है |

  • प्रशान्त महासागर (Pacific Ocean)
  • अटलांटिक महासागर (Atlantic Ocean)
  • हिन्द महासागर (Indian Ocean)
  • आर्कटिक महासागर ( Arctic Ocean )
  • अंटार्कटिका महासागर ( Antarctica Ocean )

1) प्रशान्त महासागर (Pacific Ocean)

प्रशान्त महासागर दुनिया का सबसे बड़ा और सबसे गहरा महासागर है | प्रशान्त महासागर अमेरिका और एशिया को एक दूसरे से अलग करता है | खोजकर्ता फर्डिनेंड मैगलन ने 16 वीं शताब्दी में प्रशांत महासागर का नाम दिया। लगभग 59 मिलियन वर्ग मील को कवर करते हुए और पृथ्वी पर आधे से अधिक मुक्त पानी से युक्त, प्रशांत दुनिया के महासागरों में अब तक का सबसे बड़ा है।

सफ़र के उपरान्त इस महासागर ने फर्डिनेंड मैगलन के साथ बाकि अन्य महासागरो से बिलकुल अलग व्यव्हार किया | जैसे एक लहरों में एकदम ठहराव | इसीलिये उन्होंने इसका नाम प्रशान्त महासागर (Pacific Ocean) रखा | जिसका अर्थ होता है “शांतिपूर्ण समुद्र”

प्रशान्त महासागर का क्षेत्रफल 16,57,23,740 वर्ग किलोमीटर है। यह फिलिपींस तट से लेकर पनामा 9,455 मील चौड़ा तथा बेरिंग जलडमरूमध्य से लेकर दक्षिण अंटार्कटिका तक 10,492 मील लंबा है। प्रशांत महासागर की औसत गहराई लगभग 14,000 फुट है तथा अधिकतम गहराई लगभग 35,400 फुट करीब 10.91 किमी है |

प्रशांत महासागर की आकृति त्रिभुजकार है। इसका शीर्ष बेरिंग जलडमरूमध्य पर है, जो घोड़े के खुर की आकृति का है | प्रशांत महासागर पृथ्वी के 30 % हिस्से को कवर करता है |

2) अटलांटिक महासागर या अन्ध महासागर (Atlantic Ocean)

अटलांटिक महासागर विश्व का दूसरा सबसे बड़ा महासागर है | इसको अन्ध महासागर भी कहा जाता है | इसका आकर अंग्रेंजी वर्णमाला के S की तरह है | इस महासागर का नाम ग्रीक संस्कृति से लिया गया है जिसमें इसे “नक्शे का समुद्र” भी बोला जाता है |

प्राचीन काल से ही यह महासागर व्यापर और यात्रा का प्रमुख केंद्र रहा है | अन्ध महासागर यूरोप और अफ्रीका महाद्वीप को विश्व के बाकी महाद्वीपों से विभाजित करती है | यह पृथ्वी का लगभग 20 % भाग कवर करता है |

अटलांटिक महासागर का क्षेत्रफल 106,460,000 वर्ग किलोमीटर है | सबसे बड़ा महासागर नहीं होने के बावजूद इसके अधीन विश्व का सबसे बड़ा जलप्रवाह क्षेत्र है | इसकी औसत गहराई 11,962 फीट है और अधिकतम गहराई 27,480 फीट है |

अन्ध महासागर पानी के जहाज द्वारा पार किया जाने वाला पहला महासागर था। इस महासागर में दुनिया का सबसे बड़ा द्वीप ग्रीनलैंड स्थित है।

अटलांटिक महासागर को दो भागों में विभाजित किया गया है, भूमध्यरेखीय द्वारा, उत्तरीय अटलांटिक महासागर और दक्षिणीय अटलांटिक महासागर के साथ लगभग 8 °N पर।

3) हिन्द महासागर (Indian Ocean)

हिन्द महासागर विश्व का तीसरा सबसे बड़ा महासागर है | यह दुनिया का एकमात्र महासागर है जिसका नाम किसी देश के नाम पर रखा गया है | यानी, हिन्दुस्तान (भारत) के नाम पर रखा गया है। प्राचीन भारतीय ग्रंथो में इसे “रत्नाकर” कहा गया है।

हिन्द महासागर का क्षेत्रफल 7.35 करोड़ वर्ग किलोमीटर है | यह पृथ्वी पर उपस्तिथ जल का 19.8% कवर किये हुआ है | इसकी औसतन गहराई 12,274 फीट है | और अधिकतम गहराई 23,812 फीट है |

हिन्द महासागर का आकर अंग्रेजी वर्णमाला के M के आकार का है | यह उत्तर में एशिया, पश्चिम में अफ्रीका और पूर्व में ऑस्ट्रेलिया से घिरा है, दक्षिण में यह दक्षिणी महासागर या अंटार्कटिका से घिरा है |

हिन्द महासागर में स्थित प्रमुख्य द्वीप हैं; मेडागास्कर जो विश्व का चौथा सबसे बड़ा द्वीप है |

4) आर्कटिक महासागर ( Arctic Ocean )

आर्कटिक महासागर विश्व के पांच प्रमुख पांच महासागरों में से यह सबसे छोटा और उथला महासागर है। यह महासागर पृथ्वी के उत्तरी गोलार्ध में स्थित है इसलिये इसे उत्तरीध्रुवीय महासागर भी कहा जाता है |

आर्कटिक महासागर का क्षेत्रफल 1.4 करोड़ वर्ग किलोमीटर है | यह यूरेशिया, उत्तरी अमेरिका (ग्रीनलैंड सहित) और आइसलैंड की भूमि से घिरा हुआ है। आर्कटिक महासागर का तापमान और लवणता, मौसम के अनुसार बदलती रहती है क्योंकि इसकी बर्फ पिघलती और जमती रहती है।

यह महासागर दुनिया का सबसे ठंडा महासागर है। यह पूरे वर्ष ज्यादातर बर्फ से ढका रहता है | ग्रीष्म काल में यहां की लगभग 50% बर्फ पिघल जाती है।

5) अंटार्कटिका महासागर ( Antarctica Ocean )

अंटार्कटिका महासागर विश्व के पांच प्रमुख पांच महासागरों में से यह दूसरा सबसे छोटा महासागर है | यह महासागर पृथ्वी के दक्षिणी गोलार्ध में स्थित है | इसिलिये इसे दक्षिणध्रुवीय महासागर भी कहा जाता है |

अंटार्कटिका नाम यूनानी यौगिक शब्द एंटार्कटिके से आता है जो एंटार्कटिकोस का स्त्रीलिंग रूप है और जिसका अर्थ “उत्तर का विपरीत” है। इसका क्षेत्रफल 2.01 करोड़ वर्ग किलोमीटर है |

महासागर से समबन्धित प्रश्न FAQs:

विश्व में कुल कितने महासागर है उनके नाम बताओ ?

उत्तर: विश्व में कुल पांच महासागर है। प्रशांत महासागर, अटलांटिक महासागर, हिंद महासागर, आर्कटिक महासागर और अंटार्कटिक महासागर।

विश्व का सबसे बड़ा महासागर कौन सा है ?

उत्तर: प्रशान्त महासागर दुनिया का सबसे बड़ा महासागर है |

विश्व का सबसे छोटा महासागर कौन सा है ?

उत्तर: आर्कटिक महासागर दुनिया का सबसे छोटा महासागर है |

पृथ्वी पर कुल कितने महासागर है?

उत्तर: पृथ्वी पर कुल 5 महासागर है |

निष्कर्ष (Conclusion) :

तो आज हमने इस लेख की मदद से जाना कि Mahasagar Kitne Hai? महासागर कितने है ? इस विषय पर विस्तार से चर्चा किया हुआ है | आशा करता हूं आप को लेख में आप की जानकारी मिल गई होगी | यदि आप का कोई सुझाव हो तो कृपा कर के कमेंट बॉक्स में बतायें |

इसे भी पढ़े :

Leave a Comment