मेंढक के हृदय में कितने कक्ष होते हैं | Mendhak Ke Hriday Me Kitne Kaksha Hote Hai (2023)

मेंढक के हृदय में कितने कक्ष होते हैं | Mendhak Ke Hriday Me Kitne Kaksha Hote Hai | Mendhak ka Scientific Name | मेंढक का वैज्ञानिक नाम | अगर आप भी इस सब प्रश्नों का उत्तर ढूंढ रहे है तो आप एकदम सही जगह पर आये हुए है |

नमस्कार दोस्तों आप का बहुत स्वागत है हमारे ब्लॉग बीइंग हिन्दी पर | आज हम इस पोस्ट की मदद से जानेंगे मेंढक के हृदय में कितने कक्ष होते हैं | Mendhak Ke Hridaya Me Kitne Kaksha Hote Hai | पूरी जानकारी पाने के लिए बने रहिये हमारे इस लेख के आखिर तक | इस लेख में हम मेंढक के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश करेंगे |

मेंढक के हृदय में कितने कक्ष होते हैं | Mendhak Ke Hriday Me Kitne Kaksha Hote Hai

मेंढक के हृदय में कितने कक्ष होते हैं | Mendhak Ke Hriday Me Kitne Kaksha Hote Hai

आप की जानकारी के लिए बताना चाहूँगा कि मेंढक के हृदय की संरचना त्रिकक्षीय होती testosterone propionate है इसका मतलब मेंढक के हृदय में 3 कक्ष होते है |

Mendhak Ke Hriday Me Kitne Kaksha Hote Hai 3
मेंढक के हृदय में कितने कक्ष होते हैं तीन

मेंढक के हृदय के तीनो कक्षों में से दो कक्ष ऊपर की तरफ होते है और एक कक्ष नीचे की तरफ होता है | ऊपर की तरफ के कक्ष को आलिन्द (Auricles) और नीचे वाले कक्ष को निलय (Ventricles) कहते है |

मेंढक का पूरा हृदय एक पलती पारदर्शी झिल्ली से ढका रहता है जिसे पेरीकार्डियम (Pericardium) कहते है।

मेंढक का वैज्ञानिक नाम क्या है | Mendhak ka Scientific Name

यह प्रश्न भी बहुत सारे प्रतियोगी परीक्षाओ में पूछा जाता है |

आप की जानकारी के लिए बताना चाहूँगा कि मेंढक का वैज्ञानिक नाम अनुरा (Anura) है |

मेंढक का वैज्ञानिक नाम क्या हैअनुरा
Mendhak ka Scientific Name Anura

मेंढक की कितने प्रकार की प्रजातिया है |

मेंढक एक उभयचर वर्ग का जीव है | जो जल और स्थल (जमीन) दोनों ही जगह रह सकता है |

विश्व भर में मेंढक की 5700 से ज्यादा की प्रजातिया की खोज हो चुकी है | जिसमे से भारत में सिर्फ 380 मेंढक की प्रजातिया मिलती है | बारिश के मौसम में मेंढक की संख्या में वृद्धि हो जाती है |

ठंडी के मौसम में मेढ़क जमीन के अंदर जमीन को खोद कर उनमे जगह बनाकर रहते हैं | यहा तक खाना खाने के लिए बहार नहीं आता हैं. इस क्रिया को शीतनिद्रा या शीतसुषुप्तावस्था कहते हैं |

मेंढक से जुडी कुछ रोचक तथ्य

मेंढक से जुडी रोचक तथ्य कुछ इस प्रकार है |

  • मेंढक एक शीतरक्ती प्राणी है अर्थात् इसके शरीर का तापमान वातावरण के ताप के अनुसार घटता या बढ़ता रहता है।
  • मेंढक के चार पैर होते है | जिसके पिछले दो पैर अगले दोनो पैरो से बड़े होते है |
  • मेंढक के अगले दोनों पैरों में चार-चार तथा पिछले दोनों पैरों में पाँच-पाँच झिल्लीदार उँगलिया होतीं हैं
  • नर मेंढक मादा मेंढक की अपेक्षा छोटे आकार में होते है |
  • सबसे लम्बा मेंढक 1 फुट का होता है | जो कि अफ्रीका में पाया जाता है |
  • मेंढक का सिर का आकार तिकोना होता है |
  • मेंढक में कुछ प्रजातिया ऐसी भी है जिनके सिर पर छोटी छोटी सींघ होती है |
  • मेढक अपनी त्वचा से पानी सोख कर ग्रहण करता है |
  • एक मेंढक अपनी कुल लम्बाई का लगभग 20 गुना लम्बी छलांग लगा सकता है |
  • मेंढकों का आकार 9.8 मिलीमीटर (0.4 ईन्च) से लेकर 30 सेण्टीमीटर (12 ईन्च) तक होता है |
  • सामान्यतः मेंढको का जीवन काल 10 से 12 वर्ष तक का होता है |
  • मेंढको की सभी प्रजातियों में सबसे जहरीला मेंढक GOLDEN DARK FROG है |
  • मेंढक मौजूदा उभयचर प्रजातियों का लगभग 88% हिस्सा हैं।

मेंढक से सम्बंधित कुछ प्रश्न (FAQs)

सबसे जहरीला मेंढक कौन सा है?

उत्तर- सबसे जहरीला मेंढक Golden Dark Frog है |

मेंढक के कितने पैर होते है?

उत्तर- मेंढक के कुल 4 पैर होते है | 2 आगे की तरफ और 2 पीछे की तरफ जिसके कारण ये लम्बी छलांग लगा लेते है |

मेंढक की उम्र कितनी होती है?

उत्तर- मेंढक की उम्र 10-12 वर्ष तक की होती है |

सबसे बड़ा मेंढक कौन सा है?

उत्तर- सबसे बड़े मेंढक का नाम गोलियत है।

निष्कर्ष (Conclusion) :

इस पोस्ट का लिखने का उद्देश्य आप को मेंढक के हृदय में कितने कक्ष होते हैं | Mendhak Ke Hriday Me Kitne Kaksha Hote Hai | मेंढक का वैज्ञानिक नाम क्या है | Mendhak ka Scientific Name के बारे में पूरी जानकारी देना | ये सभी प्रश्न प्रतियोगी परीक्षाओ में बहुत बार पूछे जा चुके है | आशा करता हु दोस्तों आज के इस पोस्ट से आप को बहुत जानकारी मिली होगी अगर कोई सुझाव या त्रुटी हो तो कृपया कमेन्ट बॉक्स में जरूर बताये | धन्यवाद

इसे भी जरूर पढ़े :

Leave a Comment